जानिए कैसे घरेलु उपाय से करें चुटकियों में बेहरेपन को करें दूर ?

सुनने की शक्ति खत्म होना या बेहरेपन(home remedy for curing deafness) एक बहुत ही कष्टदायक व गंभीर बीमारी है। यह रोग बहुत से लोगों को कई विभिन्न-विभिन्न कारणों से हो जाती है। इन कारणों में से एक है, बढ़ती उम्र। इसका मुख्य कारण यह है कि जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, तो कई बार कान की हड्डी बढ़ जाती है। इस रोग के कारण आपका अधिक शोर-शराबे वाले स्थान पर कार्य करना कठिन हो जाता है। इसके साथ ही ज़्यादा मोबाइल के उपयोग करना तथा तेज आवाज में गाने सुनना भी सुनने की क्षमता कम करने के कारण हैं।

इन सभी कारणों से व्यक्ति को बेहरेपन की परेशानी हो सकती है। इसलिए आज हम आपको एक ऐसे घरेलु उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके उपयोग से आप बहरेपन की समस्या से छुटकारा पा सकेंगे। परन्तु ध्यान रखें, इस उपाय को प्रयोग में लाने से पूर्व एक बार विशेषज्ञ से सलाद जरूर ले लें।

home remedy for curing deafnessचलिए जानते हैं बेहरापन दूर करने के घरेलु उपाय(Home remedy for curing deafness):-

उपाय-1 

  • लहसुन तथा प्याज के रस की सहायता से आप कम सुनने की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
  • प्याज में मौजूद एटीऑक्सिडेंट्स तेज़ आवाज़ अथवा हवा के दबाव के कारण होने वाले बेहरेपन को ठीक करने में  सहायता करते हैं।
  • साथ ही इसके यदि आप अपनी नियमियत खुराक में लहसुन का उपयोग करते हैं। तो इससे भी आपको बेहरेपन के रोग का इलाज किया जा सकता है।

उपाय-2 

  • लहसुन की 3-4 कलियां लें तथा इसका रस निकाल लें।
  • अब इस रस में जैतून का तेल 1 बड़ा चम्मच मिला लें।
  • फिर इस में 15 ml. प्याज़ का रस मिश्रित करें।
  • आप एक ड्रॉपर की सहायता से आप 3 से 4 बूंद अपने कान में डाल सकते हैं।
  • आपको इससे अवश्य फायदा होगा।

एक शोध के अनुसार जिन लोगों की सुनने की समर्था चली गई थी। उनके द्वारा प्याज़ तथा पानी के मिश्रण को अपने कान में उपयोग करना बहुत लाभकारी होगा। लहसुन तथा प्याज़ सर्दी-ज़ुकाम के समान काफी लाभकारी माना जाता है। यह दोनों ही वस्तुएं रक्त चाप को काबू रखने में असरकारक हैं।

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो इसे फेसबुक पर अपने दोस्तों संग शेयर अवश्य करें।

डॉक्टर से दवाई मंगवाने के लिए 9041 715 715 नंबर पर कॉल करें।

Releated Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *