हकलाना तथा रक्तचाप का कैसे करें उपचार ?


Ads

आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको करने से आप हकलाने तथा रक्तचाप की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। अपने बहुत बार लोगों को अटक-अटक कर बोलते देखा होगा। इस परेशानी को हकलाना कहा जाता है। आज के इस उपाय में हम आपकी इस हकलाने की समस्या का समाधान बताएंगे। यह समाधान हकलाने के साथ-साथ निम्न रक्तचाप अर्थात लौ-ब्लड प्रेशर की समस्या में भी उतना ही कारगर है।

चलिए जानते हैं इस उपाय के बारे में !!

आवश्यक सामग्री:-

  • दूध – 250 मिलीलीटर
  • मिश्री – 10 ग्राम
  • कालीमिर्च
  • मक्खन – 25 ग्राम
  • बादाम – 5

बनाने तथा सेवन की विधि:-

निम्न रक्तचाप की समस्या में >>

  • बादाम की 3 गिरी रात को पानी में डालकर रखें।
  • सुबह उठकर बादामों को साफ सिल पर घिसकर, चाटकर सेवन करें।
  • इससे निम्न रक्तचाप के रोग में बहुत लाभ होता है।
  • अगर बादाम को घिसकर खाने में कोई परेशानी होती हो तो इसे पीसकर सेवन कर सकते हैं।

या

  •  रात को पानी में बादाम की 3 गिरी भिगोकर रख दें।
  • सुबह बादाम को पीसकर 50 ग्राम मक्खन और 10 ग्राम मिश्री के साथ मिलाकर खाएं।
  • उसके ऊपर से 250 मिलीलीटर दूध पीएँ।
  • इससे निम्न रक्तचाप यानी लो ब्लड प्रेशर में बहुत लाभ होता है।
READ  बादाम तेल के हैं चमत्कारिक लाभ, जान कर हैरान जाएंगे आप!!

पागलपन की समस्या में >>

  • बादाम की 8 गिरी को रात को पानी में भिगोकर रख दें।
  • सुबह उनके छिलके उतारकर उसी पानी के साथ पीस लें।
  • फिर इसे 200 मिलीलीटर दूध के साथ पागलपन के रोगी को पिलाने से पागलपन दूर हो जाता है।
  • इससे दिमाग भी काबू में रहता है।

हकलाने व तुतलाने की समस्या में>>

  • रोजाना रात को 5 बादाम भिगोकर फिर छीलकर और पीस लें।
  • इसमें 25 ग्राम मक्खन मिलाकर कुछ महीने तक लगातार सेवन करें।
  • इससे हकलाना व तुतलाना ठीक हो जाता है।
  • साथ ही रोगी को धीरे-धीरे बोलने तथा बिना घबराहट के बोलने की कोशिश भी करनी चाहिए।
  • बादाम की 10 गिरी और कालीमिर्च को लेकर बहुत बारीक पीसकर मिलाकर चाटना भी तुतलाने व हकलाने में लाभकारी होता है।

या

  • रोजाना 5 से 6 बादाम पानी में भिगोकर रख दें।
  • बादाम के फूल जाने पर छिलका उतारकर इसकी गिरी को पीस लें।
  • इसको 25 से 30 ग्राम मात्रा को मक्खन में मिलाकर खाएं।
  • कुछ महीनों तक इसका सेवन करने से तुतलापन ठीक हो जाता है।

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो इसे फेसबुक पर अपने दोस्तों संग शेयर अवश्य करें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *