स्मरणशक्ति तथा बुद्धि कैसे बढ़ाएं ?

आजकल भागदौड़ भरे जीवन में हमारी स्मरणशक्ति बहुत काम हो चुकी है। हमें याद ही नहीं रहता कि कल हम कहाँ गए, हमने क्या खाया, हम सुबह किस से मिले। यहाँ तक कि अपने ज़रूरी काम भी भूल जाते हैं। जिनके कारण हमको अक्सर बहुत परेशान होना पड़ता हैं। इसलिए आज हम आपको एक ऐसे घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं, जिनको करने से आप मस्तिष्क तथा दिमाग की कमज़ोरी को सरलता से परन्तु बहुत असरदार तरिके से दूर कर सकेंगे।

चलिए जानते हैं इस उपाय के बारे में!!

आवश्यक सामग्री:-

  • बादाम की गिरी – 7
  • काली मिर्च – 4
  • दूध – 250 ग्राम
  • देसी घी – 1 चम्मच
  • बुरा चीनी – 2 चम्मच

बनाने की विधि:-

  • किसी काँच के बर्तन में जल भरकर इसमें 7 बादाम की गिरी सांय काल भिगो दें।
  • प्रांत: इन बादामों का छिलका उतार कर बारीक पीस लें।
  • यदि आपकी आँखे भी कमज़ोर हैं, तो साथ ही 4 काली मिर्च भी पीस लें।
  • अब इसे उबलते हुए दूध में मिलाएं।
  • जब तीन उफान आ जाए तो दूध को आँच से उतार लें।
  • फिर इसमें 1 चम्मच गाय का देसी घी तथा 2 चम्मच बुरा चीनी डाल कर ठण्डा करें।

सेवन की विधि:-

  • पीने लायक गर्म रह जाने पर इसका सेवन करें।
  • इसे 15 से 40 दिनों तक इसका सेवन करें।
  • यह दूध मस्तिष्क तथा स्मरण शक्ति की कमज़ोरी दूर करने के लिए अति उत्तम होने के साथ वीर्य बल वर्धक भी है।

विशेष:-

  1. यह बादाम का दूध सर्दियों में विशेष लाभ तथा दिमागी मेहनत करने वाले विद्यार्थियों के लिए बहुत उपयोगी हैं।
  2. प्रांत: खाली पेट इस दूध को लेने के बाद 2 घंटो तक कुछ ना खाए।
  3. उपरोक्त बादाम का दूध तीन चार दिन पीने से आधे सर के दर्द में आराम होता हैं।
  4. बादाम को चन्दन के समान बरीकतम पीसना या खूब चबा कर मलाई की तरह कोमल बना कर सेवन करना आवश्यक हैं।
  5. इस से बादाम आसानी से हज़म हो जाने पर पूरा लाभ मिलता हैं तथा कम बादाम से भी अधिक लाभ प्राप्त किया जा सकता हैं।

अन्य विधि:–

  • यदि उपरोक्त विधि से बादाम का दूध लेना संभव ना हो।
  • तो सात भिगोई हुई बादाम की गिरिया छील कर(चार काली मिर्च के साथ पीस कर बारीक कर के अथवा वैसे ही )
  • एक एक बादाम को नित्य प्रांत: खूब चबा चबा कर खाएँ तथा ऊपर से गर्म दूध पी लें।
  • स्मरण शक्ति की वृद्धि के साथ इस से आँखों के अनेक रोग जैसे आँखों की कमज़ोरी, आँखों का थकना, आँखों से पानी गिरना, आँख आना आदि दूर हो जाते हैं।

डॉक्टर से अपनी समस्या शेयर करें 9041 715 715 नंबर पर मुफ्त परामर्श करें।

Releated Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *