गुणों से भरपूर-अनानास

सर्दी के मौसम में मौसमी को फलों की बहार कहा जाता है। लेकिन कई लोग ठंड के कारण परहेज़ करते हैं फलों को खाने से जिससे वह अपना ही नुकसान कर रहे होते हैं। ठंड में विटामिन सी युक्त फलों का सेवन जरूर करना चाहिए। यह आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। तो सर्दियों के दिनों में अनानास का सेवन ज़रूर करना चाहिए है। यह फल खट्टा-मीठा होने के साथ स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है। इसका उपयोग खाने, सलाद और डेजर्ट में किया जाता है। इसमें कैल्शियम, फाइबर और विटामिन सी पाया जाता है। इसमें बहुत कम मात्रा में वसा पाया जाता है।

इसमें में एंजाइम पाया जाता है जिसको अंग्रेजी में Bromelain कहते हैं और इसमें विटामिन A साथ ही C भरपूर मात्रा में पायें जाते हैं।

क्या हैं इसका फायदा आयुर्वेद में ?

  1. सांस की बीमारी के लिए: जो लोग सांस की बीमारी से गुज़र रहे हैं जैसे की अस्थमा,सही से सांस न ले पाना उन लोगो केलिए अनानास काफी लाभकारी माना गया है। अनानास के रस को अगर हम भारतीय करौदा बीज जिसको अंग्रेजी में (Indian gooseberry seeds) भी कहते हैं और साथ में जीरा और शहद को मिलाकर लेने से सांस की बीमारी ठीक हो जाती है।·
  2. आंखों के लिए फायदेमंद: अनानास अपने विशिष्ट गुणों के कारण आंखों की दृष्टि के लिए भी उपयोगी होता है। पूर्व में हुए शोधों के मुताबिक दिन में तीन बार इस फल को खाने से बढ़ती उम्र के साथ कम होती आंखों की रोशनी का खतरा कम हो जाता है। आस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों के मुताबिक यह कैंसर के खतरे को भी कम करता है।
  3. सेहत बनाने में सहायकारी: अनन्नास शरीर में बनने वाले अनावश्क तथा विषैले पदार्थो को बाहर निकालकर शारीरिक शक्ति में वृद्धि करता है।
  4. बुखार में है फायदेमंद अनानास का प्रयोग करना: अगर किसी को भुखार होता है तो उस समय अनानास का जूस पीना काफी लाभकारी होता है और अगर इसमें हम 20 ग्राम के जूस में शहद मिलकर मरीज़ को दे तो उसका सेवन करते ही उसके पसीना छुटना शुरू होजाएगा और पेशाब के माध्यम से उसका भुखार कम होना शुरू हो जाएगा।

डॉक्टर से दवाई मंगवाने के लिए 94647 80812 नंबर पर कॉल करें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *