वीर्य गाढ़ा कर शुक्राणुओं की सँख्या कैसे बढ़ाएं ?

आज हम आपको बताने जा रहें है एक ऐसा प्रयोग जो शुक्राणुओं को बढाने और पौरुषत्व बढाने के लिए बेहद असरकारक है, इस प्रयोग के बारे में कह सकते हैं के ये प्रयोग 15 से 50 दिन करने से आपकी शुक्राणुओं की जनसँख्या चीन की जनसँख्या के जैसे बढ़ सकती है. और आज भी ये प्रयोग आदिवासी लोग बेहद सफलता पूर्वक आजमाते है. यह प्रयोग इतना सरल है के इसके लिए जो भी ज़रूरी सामान है वो आपको आपकी रसोई में ही मिल जाएगा. तो आइये इस प्रयोग के बारे में.

चलिए जानते हैं इस उपाय के बारे में !!

आवश्यक सामग्री:-

  • अजवायन – 100 ग्राम
  • इमली के बीज – 100 ग्राम
  • गुड – 100 ग्राम
  • देसी घी – 100 ग्राम (अगर गाय का हो तो अच्छा होगा)

बनाने की विधि:-

  • सर्व प्रथम इमली से इमली के बीजों को अलग कर लें। वैसे तो यह बाज़ार में अलग किए हुए मिल जाते हैं, अन्यथा आमली लेकर स्वयं ही इमली से अलग कर सकते हैं। इन्हें इमली की चीयें भी बोलते हैं।
  • इस उपरांत इन बीजों को तवे पर सेक लें और फिर इनमें से गिरी निकाल लें।
  • फिर इस गिरी को कूट कर इसका चूर्ण बना लें।
  • एक कडाही को धीमी आग पर रख दें।
  • पहले इसमें देसी घी डाल लें। जैसे देसी घी थोडा गर्म हो तो गुड डालें, उसके बाद में अजवायन तथा फिर अंत में इमली के बीजों का चूर्ण।
  • अब इसको धीरे-धीरे हिलाते रहें नहीं अन्यथा यह जल जाएंगे।
  • इस कार्य को करने में आप घर में गृहणी की सहायता ले सकते हैं।
  • अब यह गजक के समान तैयार हो जाएंगे।
  • अंत में आपकी शुक्राणुओं को बढ़ाकर आपकी मर्दानगी को बढाने वाली औषधि तैयार है।
  • यह औषधि शीघ्रपतन, वीर्ये के पतलेपन को दूर करने बहुत असरकारक है।

सेवन की विधि:-

  • इस औषधि को प्रतिदिन 1/4 (एक चौथाई) चम्मच गुड व दूध के साथ से दिन में 2 बार सुबह तथा रात को सोते समय लें।
  • इसका लगभग 15 से 50 दिन तक सेवन करें।
  • यह मिश्रण पौरुषत्व बढ़ाने के साथ-साथ शु*क्रा*णुओं की संख्या बढ़ाने के साथ साथ स्त्रियों में गर्भधारण के बाद आई हुई कमजोरी को दूर करने के लिए भी बहुत असरदार है।

डॉक्टर से दवाई मंगवाने के लिए 9041 715 715 नंबर पर कॉल करें।

Releated Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *