छोटे या पतले लिंग का कैसे करें उपचार ?

युवा काल में लिंग के आकार के प्रति चिंता एवं उत्सुकता लगभग हरेक पुरुष मे होती है। यहां ध्यान देने योगज्ञ बात यह है कि हर पुरुष के लिंग की मुटाई, स्थिरता और लंबाई में भिन्न होती है। परन्तु इस भिन्नता का यौन संतुष्टी, गर्भाधारण तथा यौन क्षमता पर किसी प्रकार का कोई असर नहीं पडता।

असल में औरत की योनि का उपरी एक तिहाई भाग ही यौन स्पर्श के प्रति संवेदनशील होता है। अत: उत्तेजित अवस्था मे यदि शिश्न की लंबाई केवल 2 से.मी. भी हो तो वह अपने यौन साथी को प्रयाप्त यौन आनंद प्रदान करा पाने मे सक्ष्म होता है। अतः आप चिंता ना करें और बहलाने वाले विज्ञापनों के चक्कर में पडकर अपने शिश्न की लंबाई, मोटाई एवं उत्तेजना बढ़ाने वाली दवाओं का सेवन कदापि ना करें। इससे फायदा तो दुर नुकसान अवश्य हो सकता है।

इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको करने से आप अपने लिंग का आकार बढ़ाने के साथ-साथ उसे शक्तिशाली भी कर पाएंगे।

See also  काली मिर्च है, हाइपोथाइरोइड तथा वज़न कम करने में रामबाण!!

लिंग की विकृति में तिला का प्रयोग

आवश्यक सामग्री:-

  • दालचीनी का तेल
  • बादाम का तेल
  • जमालगोटा का तेल
  • पिस्ता का तेल

बनाने की विधि:-

  • ऊपर बताए गए सारे तेल एक समान मात्रा में लेकर एक साथ मिश्रित कर लें।

उपयोग करने की विधि:-

  • इस तिला/मिश्रण एक बूद की मात्रा में रात को सोने से पूर्व अपनी इंद्रिय पर लगाएं।
  • अब ऊपर से पान का पत्ता बांधकर सो जाएं।
  • इस तिला का प्रयोग एक महिने तक करें।
  • से लिंग का टेढापन, पतलापन एंव असमानता दूर हो जाती है तथा वह शक्तिशाली हो जाता है।